Tag: chuninda रवादारी शायरी

रवादारी शायरी – रवादारी निगाहों की बहुत होती

रवादारी निगाहों की बहुत होती है गर कुछ हो,
वरना, इशारे तो बुर्के के अंदर से भी बेबाक होते हैं

रवादारी शायरी – अभी तक यह इलाक़ा है

अभी तक यह इलाक़ा है रवादारी के क़ब्‍ज़े में
अभी फ़‍िरक़ापरस्‍ती कम है आबादी बताती है