Tag: शोखी व्हाट्सप्प स्टेटस

शोखी शायरी – नफ़ासत है नजाक़त है,शरारत और

नफ़ासत है नजाक़त है,शरारत और है शोखी.
नज़र भी कातिलाना है,अदा मासूम है उनकी.

शोखी शायरी – हाथ क्यूं बांधे मेरे छल्ला

हाथ क्यूं बांधे मेरे छल्ला अगर चोरी हुआ
ये सरापा शोखी ए रंग ए हिना थी मैं ना था