Tag: बेदर्द hindi shayari

बेदर्द शायरी – इतना दर्द न दे मुझे,

इतना दर्द न दे मुझे, बेदर्द न हो जाऊ
तेरी हर खबर,फिर बेखबर न हो जाऊ
उम्र ही गुज़र जाती है एतबार करने मे
फिर कैसे टूट के अब मै बेफिक्र हो जाऊ

बेदर्द शायरी – रहा न दिल में वो

रहा न दिल में वो बेदर्द और दर्द रहा
मुक़ीम कौन हुआ है मक़ाम किस का था

बेदर्द शायरी – बडे बेदर्द हो यार तुम

बडे बेदर्द हो यार तुम भी,
खामोश रहकर भी कितना दर्द देते हो