Shayri 2 Line Mein – सिरफिरे लोग हमे दुश्मने

सिरफिरे लोग हमे दुश्मने -जाँ कहते है

हम जो इस मुल्क की मिटटी को भी माँ कहते है