Shayri 2 Line Mein – सर्द रातें बढ़ा देती है

सर्द रातें बढ़ा देती है, सूखे पत्तों की कीमत,

वक़्त वक़्त की बात है, वक़्त सबका आता है