Shair 2 Line Mein – तेरी यादों ने मुझे क्या खूब मशरूफ किया है

तेरी यादों ने मुझे क्या खूब मशरूफ किया है ऐ सनम..

खुद से मुलाकात के लिए भी वक़्त मुकर्रर करना पड़ता है।