New Hindi Shayari 2017 – हर शख्स यहाँ अपने गम में खोया हैं

हर शख्स यहाँ अपने गम में खोया हैं

और जिसे गम नहीं हैं वो चैन से कब्र में सोया हैं