New Hindi Shayari 2017 – हँस भी लेता हूँ

हँस भी लेता हूँ, ऊपरी दिल से,

जी ना बहले, तो क्या करे कोई

1 thought on “New Hindi Shayari 2017 – हँस भी लेता हूँ

Comments are closed.