New Hindi Shayari 2017 – मुहब्बत के ये अश्क़ है

मुहब्बत के ये अश्क़ है इन्हें आँखों में रहने दो

शरीफों के घरों का मसला बाहर नहीं जाता