Hindi Shair 2 Line Mein – मुसाफ़िरत का वलवला

मुसाफ़िरत का वलवला सियाहतों का मश्ग़ला

जो तुम में कुछ ज़ियादा है सफ़र करो सफ़र करो