Hindi Font Mein 2 Line Shayari – यही सोच कर इक्तिफ़ा

यही सोच कर इक्तिफ़ा चार पर कर गए शैख़-जी

मिलेंगी वहाँ उन को हूर और परियाँ वग़ैरा वग़ैरा