Category: आरज़ू शायरी

आरज़ू शायरी – आरज़ू मेरी, चाहत तेरी, तमन्ना मेरी,

आरज़ू मेरी, चाहत तेरी,
तमन्ना मेरी, उल्फत तेरी,
इबादत मेरी, मोहब्बत तेरी,
बस तुझ से तुझ तक है दुनिया मेरी.

आरज़ू शायरी – कटती है आरज़ू के सहारे

कटती है आरज़ू के सहारे ज़िन्दगी
कैसे कहूँ किसी की तमन्ना नहीं

आरज़ू शायरी – आरज़ू हसरत और उम्मीद शिकायत

आरज़ू हसरत और उम्मीद शिकायत आँसू
इक तिरा ज़िक्र था और बीच में क्या क्या निकला

आरज़ू शायरी – इक वक़्त था कि दिल

इक वक़्त था कि दिल को सुकूँ की तलाश थी
और अब ये आरज़ू है कि दर्द-ए-निहाँ रहे