Category: आबाद शायरी

आबाद शायरी – इश्क़ खोमोशी से दिल की

इश्क़ खोमोशी से दिल की बात करता है
लफ़्ज़ों में ख़ुद को कब आबाद करता है