2 Lines Shero Shayari – पा सकेंगे ना उमर भर जिस को

पा सकेंगे ना उमर भर जिस को

जुस्तजू आज भी उसी की है