हिंदी के शेर दो लाइन में – अजीब लोगों का बसेरा है

अजीब लोगों का बसेरा है तेरे शहर में,

गुरूर में मिट जाते हैं मगर याद नहीं करते