व्हाट्सएप्प हिंदी शायरी – मैं अपनी मोहब्बत के लिए

मैं अपनी मोहब्बत के लिए आफ़ाक़ में हर-सू घूम गया

तुम दूर कहीं जा पहुँचे थे आसमान में जी बहलाने को!!!