Anmol Hindi Shayari

Shayari Collection In Hindi

loading...

New Hindi Shayari 2017 – हाथ भर का फासला

हाथ भर का फासला उम्र तलक चलता रहा
एक कतरा आंसू का रात भर छलकता रहा
नींद आई कि‍ ख्‍वाब आए कि विस्‍ल-ए-यार हुआ
मन यूंही नहीं रात भर तेरे ख्‍याल में भटकता रहा

loading...
Updated: March 18, 2017 — 4:23 pm
Anmol Hindi Shayari © 2017