Anmol Hindi Shayari

Shayari Collection In Hindi

loading...

हरजाई शायरी – क्यूँ तर्क-ए-तअ’ल्लुक़ भी किया लौट

क्यूँ तर्क-ए-तअ’ल्लुक़ भी किया लौट भी आया?
अच्छा था कि होता जो वो हरजाई ज़रा और

loading...
Updated: June 23, 2017 — 4:35 pm
Anmol Hindi Shayari © 2017