Anmol Hindi Shayari

Shayari Collection In Hindi

loading...

शाम शायरी – कहाँ की शाम और कैसी

कहाँ की शाम और कैसी सहर, जब तुम नही होते
तड़पता है ये दिल आठो पहर, जब तुम नही होते

loading...
Updated: April 29, 2017 — 12:48 pm
Anmol Hindi Shayari © 2017