Anmol Hindi Shayari

Shayari Collection In Hindi

loading...

रिफ़ाक़त शायरी – रिफ़ाक़त ना सही, कुछ मरासिम

रिफ़ाक़त ना सही, कुछ मरासिम तो रख
मेरे हमदम, तू मुझसे अदावत का ही रिश्ता तो रख कर जा

loading...
Updated: April 27, 2017 — 5:13 pm
Anmol Hindi Shayari © 2017