Anmol Hindi Shayari

Shayari Collection In Hindi

loading...

रिफ़ाक़त शायरी – ज़िंदगी जिन की रिफ़ाक़त पे

ज़िंदगी जिन की रिफ़ाक़त पे बहुत नाज़ाँ थी
उन से बिछड़ी तो कोई आँख में आँसू भी नहीं

loading...
Updated: April 27, 2017 — 5:13 pm
Anmol Hindi Shayari © 2017