Anmol Hindi Shayari

Shayari Collection In Hindi

loading...

मुख़ातिब शायरी – ख़तों में ख़ैरियत लिखना रस्मे

ख़तों में ख़ैरियत लिखना रस्मे ज़माना रहा,
मुख़ातिब हो तू तो आँखों से दिले इबारत लिखूं

loading...
Updated: April 29, 2017 — 1:08 pm
Anmol Hindi Shayari © 2017