Anmol Hindi Shayari

Shayari Collection In Hindi

loading...

मुख़ातिब शायरी – इक तो बंदिश भी कमाल,

इक तो बंदिश भी कमाल, फिर अर्ज़ लाज़वाब
मुख़ातिब हमसे न हों, इश़्क भी हो बेहिसाब

loading...
Updated: July 31, 2017 — 11:37 am
Anmol Hindi Shayari © 2017