Anmol Hindi Shayari

Shayari Collection In Hindi

loading...

मुफ़्लिस शायरी – इस क़दर मुफ़्लिस हूँ मैं

इस क़दर मुफ़्लिस हूँ मैं जाँ को बचाने,
भूख में ख़ुद को चबाकर रह गया हूँ

loading...
Updated: June 23, 2017 — 4:34 pm
Anmol Hindi Shayari © 2017