Anmol Hindi Shayari

Shayari Collection In Hindi

loading...

मग़रूर शायरी – मेरी खामोशियों का राज़ मुझे

मेरी खामोशियों का राज़ मुझे खुद नहीं मालूम,
ना जाने क्यूँ लोग मुझे मग़रूर समझते हैं…

loading...
Updated: April 27, 2017 — 5:24 pm
Anmol Hindi Shayari © 2017