Anmol Hindi Shayari

Shayari Collection In Hindi

loading...

मंसूब शायरी – हम से कब मंसूब है

हम से कब मंसूब है रौनक तुम्हारे बज़्म की
हम न होंगें तब भी होगी सुबह तेरी शाम तेरी

loading...
Updated: April 27, 2017 — 5:21 pm
Anmol Hindi Shayari © 2017