Anmol Hindi Shayari

Shayari Collection In Hindi

loading...

मंज़र शायरी – वही लम्हे वही मंज़र वही

वही लम्हे वही मंज़र वही यादों के हुजूम
मेरे कमरे में उजाला है मगर कम क्यूँ

loading...
Updated: May 12, 2017 — 4:18 pm
Anmol Hindi Shayari © 2017