Anmol Hindi Shayari

Shayari Collection In Hindi

loading...

मंजर शायरी – बरस रहे बादल आँखे रो

बरस रहे बादल आँखे रो रही
तन्हाई हर बात कह रही
जाये तो कहा जाये
हर ओर गम की हवा चल रही
बड़ा अजीब मंजर है इश्क का
मर चुका मानस मगर साँस चल रही

loading...
Updated: July 31, 2017 — 11:53 am
Anmol Hindi Shayari © 2017