Anmol Hindi Shayari

Shayari Collection In Hindi

loading...

बेख्याली शायरी – भीड़ से कट के न

भीड़ से कट के न बैठा करो तन्हाई में
बेख्याली में कई शहर उजड़ जाते हैं

loading...
Updated: November 3, 2017 — 3:29 pm
Anmol Hindi Shayari © 2017