Anmol Hindi Shayari

Shayari Collection In Hindi

loading...

निसबत शायरी – जो आज साहिबे निसबत है,,कल

जो आज साहिबे निसबत है,,कल नहीं होंगे…
किरायेदार हैं ज़ाति मकान थोड़े है…

loading...
Updated: July 31, 2017 — 11:53 am
Anmol Hindi Shayari © 2017