Anmol Hindi Shayari

Shayari Collection In Hindi

loading...

नाज़ शायरी – बहुत नाज़ था मुझे अपने

बहुत नाज़ था मुझे अपने चाहने वालों पे
मैं अज़ीज़ था सबको मगर ज़ुरुरतों के लिए…

loading...
Updated: September 28, 2017 — 10:43 am
Anmol Hindi Shayari © 2017