Anmol Hindi Shayari

Shayari Collection In Hindi

loading...

नशेमन शायरी – सब बांध चुके कब के

सब बांध चुके कब के सरे -शाख़ नशेमन,
हम हैं कि गुलिसताँ की हवा देख रहे हैं…

loading...
Updated: November 3, 2017 — 3:29 pm
Anmol Hindi Shayari © 2017