Anmol Hindi Shayari

Shayari Collection In Hindi

loading...

ताबीर शायरी – दर-ब-दर हो गए ताबीर की

दर-ब-दर हो गए ताबीर की धुन में कितने
इन हसीं ख़्वाबों से बढ़ कर कोई सफ़्फ़ाक नहीं

loading...
Updated: January 5, 2018 — 4:42 pm
Anmol Hindi Shayari © 2017