Anmol Hindi Shayari

Shayari Collection In Hindi

loading...

तहज़ीब शायरी – तहज़ीब की ज़ंजीर में उलझा

तहज़ीब की ज़ंजीर में उलझा रहा मैं भी
तू भी न बढ़ा जिस्म के आदाब से आगे..

loading...
Updated: May 1, 2017 — 7:48 pm
Anmol Hindi Shayari © 2017