Anmol Hindi Shayari

Shayari Collection In Hindi

loading...

जुर्म शायरी – अकेले हम ही शामिल नहीं

अकेले हम ही शामिल नहीं हैं इस जुर्म में जनाब,
नजरें जब भी मिली थी मुस्कराये तुम भी थे

loading...
Updated: May 5, 2018 — 2:59 pm
Anmol Hindi Shayari © 2017