Anmol Hindi Shayari

Shayari Collection In Hindi

loading...

चराग़ शायरी – कुछ आज शाम हीं से

कुछ आज शाम हीं से हैं दिल भी बुझा-बुझा..
कुछ शहर के चराग़ भी मद्धिम हैं दोस्तों

loading...
Updated: April 27, 2017 — 5:20 pm
Anmol Hindi Shayari © 2017