Anmol Hindi Shayari

Shayari Collection In Hindi

loading...

गुफ़्तुगू शायरी – क़ासिद की गुफ़्तुगू से तसल्ली

क़ासिद की गुफ़्तुगू से तसल्ली हो किस तरह
छुपती नहीं वो बात जो तेरी ज़बाँ की है

loading...
Updated: May 12, 2017 — 4:18 pm
Anmol Hindi Shayari © 2017