Anmol Hindi Shayari

Shayari Collection In Hindi

loading...

ग़ुबार शायरी – मिरी ख़ाक भी उड़ेगी बा-अदब

मिरी ख़ाक भी उड़ेगी बा-अदब तिरी गली में
तिरे आस्ताँ से ऊँचा न मिरा ग़ुबार होगा

loading...
Updated: April 29, 2017 — 12:46 pm
Anmol Hindi Shayari © 2017