Anmol Hindi Shayari

Shayari Collection In Hindi

loading...

ग़ुबार शायरी – आँखों से धूल हटाई ही

आँखों से धूल हटाई ही थी कि तेरे ख़त को छूते ही,
यादों के ग़ुबार ने फिर से सब धुंधला कर दिया

loading...
Updated: June 23, 2017 — 4:34 pm
Anmol Hindi Shayari © 2017