Anmol Hindi Shayari

Shayari Collection In Hindi

loading...

ख़ुलूस शायरी – खुला है दर प तिरा

खुला है दर प तिरा इंतिज़ार जाता रहा
ख़ुलूस तो है मगर ए’तिबार जाता रहा.

loading...
Updated: June 23, 2017 — 5:18 pm
Anmol Hindi Shayari © 2017