Anmol Hindi Shayari

Shayari Collection In Hindi

loading...

ख़फ़ा शायरी – मेरे हर्फ़-हर्फ़ में तू समाता

मेरे हर्फ़-हर्फ़ में तू समाता हैं
मेरी जीस्त से क्यूँ ख़फ़ा सा हैं..

loading...
Updated: April 29, 2017 — 1:19 pm
Anmol Hindi Shayari © 2017