Anmol Hindi Shayari

Shayari Collection In Hindi

loading...

इम्तिहाँ शायरी – मय वो क्यूँ बहुत पीते

मय वो क्यूँ बहुत पीते बज़्म-ए-ग़ैर में या रब
आज ही हुआ मंज़ूर उन को इम्तिहाँ अपना

loading...
Updated: April 29, 2017 — 1:14 pm
Anmol Hindi Shayari © 2017