Anmol Hindi Shayari

Shayari Collection In Hindi

loading...

इम्तिहाँ शायरी – इम्तिहाँ कीजिए मिरा जब तक शौक़

इम्तिहाँ कीजिए मिरा जब तक
शौक़ ज़ोर-आज़मा नहीं होता

loading...
Updated: May 1, 2017 — 7:48 pm
Anmol Hindi Shayari © 2017